ताज़ा खबर कोरोना खतरे के बीच मलेशिया एयरपोर्ट पर फंसे 280 भारतीय, लगा रहे मदद की गुहार.    |     भारत में कोई आर्थिक मंदी नहीं है- निर्मला सीतारमण.    |     राशिफल 11 सितंबर 2019.    |     राशिफल 27 अगस्त 2019.    |     अगर आप दिन में एक बार आहार ले रहे हैं …….    |    

भारत के खिलाफ ISIS के खतरनाक मंसूबों का खुलासा, मुस्लिम को भड़का रहे आतंकी

By TEJAS MOHITE | published: October 20, 2020 05:13 PM 2019-02-12T14:15:30+5:30

भारत के खिलाफ ISIS के खतरनाक मंसूबों का खुलासा, मुस्लिम को भड़का रहे आतंकी

शहर : राष्ट्रीय

भारत के खिलाफ आतंकी संगठन ISIS के एक खतरनाक प्लान का खुलासा हुआ है. ZEE NEWS को आतंकी संगठन ISIS की एक नफरत भरी डिजिटल मैगजीन मिली है जिसमें ISIS आतंकी भारतीय मुस्लिम कम्युनिटी के लोगों का ब्रेन वॉश कर उन्हें बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं और उन्हें भारत के खिलाफ हथियार उठाने को कह रहे हैं. मैग्जीन में लिखे गए आर्टिकल में मुस्लिमों को भारत सरकार के खिलाफ 'जिहाद' का रास्ता चुनने को कहा जा रहा है.

में लिखा, मैग्जीन लिया जाएगा बाबरी का बदला

इतना ही नहीं भारतीय मुसलमानों को बाबरी मस्जिद विध्वंस का बदला लेने के लिए भी भड़काया जा रहा है. इस मैग्जीन में बाबरी विध्वंस से जुड़ी तस्वीरें हैं. लिखा है कि बाबरी का बदला लिया जाएगा. नफरत भरी यह मैग्जीम हमारे देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए एक बड़ा खतरा साबित हो सकती है, इसमें लिखी बातों के उजागर होने के बाद से सुरक्षा एजेंसियां भी संदेह के घेरे में हैं.

CAA-NRC का विरोध करने के लिए Voice of Hind ने उकसाया था

बता दें इसी मैग्जीन ने भारत में सीएए (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी का विरोध कर रहे लोगों को भी उकसाने का काम किया था. ऑनलाइन पत्रिका वॉयस ऑफ हिंद के संस्करण में ISIS ने भारत के मुसलमानों को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध में कई जगह पर हिंसा फैलाने के लिए प्रेरित करने वाले लेख प्रकाशित किए थे. इस मैग्जीन में कहा गया है कि ISIS नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले मुसलमानों के साथ मजबूती से खड़ा है.

भारत के खिलाफ जगह उगल का Voice of Hind का नौवां एडिशन

इस मैग्जीन का नाम 'वॉयस ऑफ हिंद' है. मैग्जीन को सीक्रेट टेलिग्राम चैनल्स और वेब के जरिए ISIS के आतंकी भारत में फैलाते हैं. मैग्जीन ने हाल ही में अपना नौवां एडिशन लॉन्च किया है जो भारत के खिलाफ नफरत भरा जहर उगल रही है. इस डिजिटल पत्रिका में कहा गया है कि बाबरी मस्जिद का विध्वंस एक ऐसी वजह है जिसके लिए इस्लामिक स्टेट के लड़ाके लड़ाई लड़ेंगे.

बता दें कि भारत की सुरक्षा एजेंसियां सोशल मीडिया और वेब पर इससे जुड़े संवादों पर कड़ी नजर रखती हैं. दिल्ली पुलिस ने इस मामले में मार्च में जामिया नगर से दो लोगों को गिरफ्तार किया था जो ISIS के लिए मैगजीन छापते थे. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने और कई गिरफ्तारियां की थी.

पिछला

कितनी घातक है अमेरिकी टॉमहॉक मिसाइल, जिसे चुराकर PAK ने बनाई बाबर मिसाइल
कितनी घातक है अमेरिकी टॉमहॉक मिसाइल, जिसे चुराकर PAK ने बनाई बाबर मिसाइल

पाकिस्तान (Pakistan) में आंतरिक घमासान के बीच पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक ऐ....

और पढो